आदित्य-एल1 ने कैद की पृथ्वी, चंद्रमा की तस्वीर

आदित्य-एल1 ने कैद की पृथ्वी, चंद्रमा की तस्वीर

नई दिल्ली. भारत के महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष यान मिशन आदित्य-एल1 ने आज पृथ्वी और चंद्रमा की तस्वीरें भेजीं है। फिलहाल आदित्य एल1 अपने गंतव्य लैग्रेंजियन पॉइंट (एल1) की ओर बढ़ रहा था, जो पृथ्वी से 1.5 मिलियन किमी दूर स्थित है। तस्वीरें भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा ट्विटर पर एक सेल्फी के साथ साझा की गईं, जिसे आदित्य-एल1 ने क्लिक किया था।

बेंगलुरु मुख्यालय वाली राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि आदित्य-एल1, सूर्य-पृथ्वी एल1 बिंदु के लिए निर्धारित है, जो पृथ्वी और चंद्रमा की सेल्फी और तस्वीरें लेता है। ये तस्वीरें VELC (विजिबल एमिशन लाइन कोरोनाग्राफ) और SUIT (सोलर अल्ट्रावॉयलेट इमेजर) उपकरण आदित्य-एल1 पर लगे कैमरे द्वारा देखा गया था।

गौरतलब है कि अंतरिक्ष यान पहले ही दो पृथ्वी-परिक्रमा युक्तियां पूरी कर चुका है और लैग्रेंज बिंदु L1 की ओर स्थानांतरण कक्षा में स्थापित होने से पहले दो और प्रक्रियाएं करेगा। 125 दिनों के बाद आदित्य-एल1 के एल1 बिंदु पर इच्छित कक्षा में पहुंचने की उम्मीद है। मिशन के प्रमुख उद्देश्यों में निकट भविष्य में पृथ्वी अंतरिक्ष मौसम यानी सौर कोरोना की भौतिकी और इसके तापन तंत्र, सौर वायु त्वरण, सौर वायुमंडल की युग्मन और गतिशीलता, सौर वायु वितरण और तापमान अनिसोट्रॉपी, और कोरोनल मास इजेक्शन (सीएमई) और फ्लेयर्स की उत्पत्ति का अध्ययन शामिल है।

अगस्त के अंत में चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर देश द्वारा दूसरों को पछाड़ने के बाद सौर जांच इसरो को एक महीने से भी कम समय में दूसरी उपलब्धि हासिल करने में मदद कर रही है। इसरो के अध्यक्ष एस सोमनाथ ने कहा कि भारत की अन्य चल रही परियोजनाओं में एक मानव अंतरिक्ष उड़ान कार्यक्रम शामिल है, जिसका लक्ष्य संभवतः 2025 तक अंतरिक्ष यात्रियों को पहली बार कक्षा में लॉन्च करना है।

One Comment

  1. Great job on this article! It was insightful and engaging, making complex topics accessible. I’m curious to know how others feel about it. Feel free to visit my profile for more thought-provoking content.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button