श्री वार्ष्णेय मंदिर में श्री कृष्ण के जन्म के साथ राधे राधे की गूंज

श्री वार्ष्णेय मंदिर में श्री कृष्ण के जन्म के साथ राधे राधे की गूंज

प्रातः दुग्धभिषेक, सांय काल आरती और मध्य रात्रि 12 बजे कन्हैया जी के जन्म के समय यमुना पार लीला देखने उमड़ी भीड़ , लाला के जन्म की खुशी में नन्दोत्सव 9 सितम्बर 2023 को

श्री वार्ष्णेय मंदिर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व धार्मिक आस्था और हर्षोल्लास के साथ मनाया गया । इतनी भीड़ उमड़ पड़ी की व्यवस्था में सहयोग कर रहे कार्यकर्ताओं के पसीने छूट गए ।

श्री वार्ष्णेय मंदिर के प्रवक्ता भुवनेश वार्ष्णेय आधुनिक ने बताया कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी कार्यक्रम का शुभारंभ प्रातः 10 बजे दुग्धाभिषेक कार्यक्रम से हुआ । पंडित मनोज मिश्रा व पंडित महेश बृह्मचारी जी ने वैदिक रीति से मंत्रोच्चार के मध्य दूध , दही , शहद , गंगाजल व इत्रादि से लड्डू गोपाल जी का दुग्धाभिषेक कराया ।
इस अवसर पर सम्पूर्ण मंदिर प्रांगण को सतरंगी लाइटों से दुल्हन की तरह सजाया गया ।
फूल बंगले में महकते वातावरण में पालने में झूलते आकर्षण का केंद्र खुद बाल रुप में लड्डू गोपाल जी रहे । भक्तों में तो पालना झुलाने की होड़ ही लगी रही । मंदिर परिसर मे लगी चंद्रयान की झाँकि के साथ आदित्य एल वन , द्वादश ज्योतिर्लिंग के साक्षात् दर्शन , गौशाला मे गौमाता के साथ भगवान श्री कृष्ण की जीवंत झाँकी ,
हिमालय पर्वत पर महाकाल की झाँकी के साथ साथ अन्य कई जीवंत झाँकियाँ भी अपनी छटा बिखेर रही थी।

मंदिर प्रवक्ता भुवनेश वार्ष्णेय आधुनिक ने बताया कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर फूल बंगला के मध्य जब ठाकुर जी ने आकर्षक परिधानों में भक्तों को दर्शन दिए तो भक्त तो मानो पागल हो उठे । भाव विह्वल होकर राधे नाम का गुण गान करने लगे ।

रात्रि में 12 बजे श्री कृष्ण के जन्म के समय दुग्धभिषेक हुआ । तदुपरांत वसुदेव बने मन्दिर व्यवस्थापक राधेश्याम गुप्ता स्क्रेप वाले वासुदेव जी कान्हा जी को सूप में रखकर यमुना पार कर नंदबाबा के यहाँ छोड़कर आये । इस लीला को देखने दूर दूर से भक्त श्री वार्ष्णेय मंदिर पहुचे ।
श्री कृष्ण जन्माष्टमी को सफल बनाने के लिए मन्दिर व्यवस्थापक राधेश्याम गुप्ता स्क्रेप वाले , पुखराज सराफ , एल डी वार्ष्णेय ,आशा वार्ष्णेय , भुवनेश वार्ष्णेय आधुनिक , यतेंद्र वाई के , बृजेश कंटक , गुलाब चन्द्र सुपारी वाले , राजू गनपत , श्याम जी कपड़े वाले , पार्षद अलका गुप्ता , अतुल सी ए , अनूप गुप्ता , योगेश वार्ष्णेय बंटी , उमेश सरकोंडा , संजीव बैभव , अमित सर्राफ , रचना सर्राफ , देवेंद्र भोला , लक्ष्मी वार्ष्णेय , दुर्गेश वार्ष्णेय , ख्याली राम वार्ष्णेय गिरीश वार्ष्णेय , राहुल स्क्रेप , नीरू वार्ष्णेय , एड0 आकाशदीप वार्ष्णेय , गौरव गुप्ता ब्रास , अनुपम सज्जू , यतीश वार्ष्णेय , अंजू वार्ष्णेय , संतोष वार्ष्णेय डिब्बे वाले , अन्नू बीड़ी , कुश वार्ष्णेय , लव गुप्ता , गौरव एल्डरोप , शैलू धर्मवीर , वीरेश वार्ष्णेय , रिकेश वार्ष्णेय , तन्मय वार्ष्णेय , कमल गुप्ता बाबा , अंकित वार्ष्णेय , मिलिंद वार्ष्णेय , दीपांशु वार्ष्णेय , त्रिलोकी आस्था , जितेन्द्र जीतू, कान्हा वार्ष्णेय , राजेश सेंचुरी , कृष्ण कुमार सीटू , मन्दिर महंत प0 मनोज मिश्रा, महेश बृह्मचारी , निखिल वार्ष्णेय , नीटू शर्मा , सुनील मित्तल, मधुकर गुप्ता , हीरेन्द्र अग्रवाल , भूपेश वार्ष्णेय , विष्णु गुप्ता , प्रदीप वार्ष्णेय , सुभाष चंद्र गुप्ता , आदि उपस्थित रहे व सम्पूर्ण व्यवस्था में सहयोग किया ।

—––——————–
श्री वार्ष्णेय मन्दिर के प्रवक्ता भुवनेश वार्ष्णेय आधुनिक ने बताया कि कान्हा के जन्म की खुशी में नन्दबाबा के यहां नन्दोत्सव का भव्य आयोजन 9 सितम्बर 2023 दिन शनिवार को रात्रि 8 बजे से श्री वार्ष्णेय मन्दिर प्रांगण में होगा । सम्पूर्ण मन्दिर परिसर को नन्दगाँव का रूप दिया जाएगा । आप सभी भक्तजन सादर आमंत्रित हैं ।

One Comment

  1. I found this article to be both engaging and educational. The points made were compelling and well-supported. Let’s talk more about this. Check out my profile for more interesting reads.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button