बाजार खुलते ही फोकस में रहेंगे अदानी ग्रुप

बाजार खुलते ही फोकस में रहेंगे अदानी ग्रुप

मुंबई। अदानी एंटरप्राइजेज के प्रमोटरों ने 21 अगस्त से 7 सितंबर के बीच कंपनी में अपनी हिस्सेदारी 2.06 प्रतिशत बढ़ा दी है। प्रमोटरों के पास अब कंपनी में 71.93 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इसी तरह अडानी पोर्ट्स के प्रमोटरों ने भी 14 अगस्त से 8 सितंबर के बीच कंपनी में अपनी हिस्सेदारी 2.17 प्रतिशत बढ़ा दी है, जिससे उनकी कुल हिस्सेदारी 65.23 प्रतिशत हो गई है। इसके अतिरिक्त अदाणी समूह की इकाई, अदाणी ग्लोबल ने अदाणी समूह द्वारा उत्पादित और आपूर्ति की जाने वाली हरित अमोनिया, हरित हाइड्रोजन और इसके डेरिवेटिव की बिक्री और विपणन के लिए कोवा होल्डिंग्स, सिंगापुर के साथ एक संयुक्त उद्यम समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। ज्वाइंट वेंचर में दोनों पार्टियों की 50-50 फीसदी हिस्सेदारी होगी।

एक रिपोर्ट में समूह द्वारा स्टॉक मूल्य में हेरफेर का आरोप लगाए जाने के बाद साल की शुरुआत से ही अदाणी समूह के शेयर फोकस में रहे हैं। उसके बाद शेयरों में बड़ा सुधार देखा गया, लेकिन वे धीरे-धीरे निचले स्तर से वापसी कर रहे हैं। सेबी की जांच और उसकी रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद कोर्ट में मामले की सुनवाई अभी बाकी है, जबकि अदानी पोर्ट्स के शेयर पहले से ही प्री-हिंडनबर्ग स्तर से ऊपर हैं, समूह की अन्य कंपनियों के शेयर अभी भी ठीक हो रहे हैं।

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button