“शरिया लागू कर इस्लामिक स्टेट बनाना चाहती है नीतीश सरकार”, त्योहारों की छुट्टियां कम करने पर भड़के गिरिराज सिंह

बेगूसराय/पटना
 केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने शनिवार को आरोप लगाया कि पूरे बिहार के स्कूलों में ‘हिंदू त्योहारों' की छुट्टियों में कटौती कर राज्य की नीतीश कुमार सरकार शरिया लागू कर इस्लामिक स्टेट स्थापित करना चाहती है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बेगूसराय से सांसद ने यह टिप्पणी अपने लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में विरोध प्रदर्शन के दौरान की। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला जलाया।

"हिंदुओं की भावनाओं से खेलती है बिहार सरकार"
गिरिराज सिंह ने कहा, ‘‘यह बच्चों को सनातन संस्कृति से अलग करने की कोशिश है ताकि वे हरितालिका तीज, जन्माष्टमी और नवरात्रि जैसे त्योहारों के प्रति अनजान बने रहे।'' उन्होंने कहा, ‘‘मैं बिहार सरकार को चुनौती देता हूं कि वह मुस्लिम त्योहारों पर होने वाली छुट्टियों में कटौती करके दिखाए। वह हिंदुओं की भावनाओं से खेलने का हौसला करती है क्योंकि यह समुदाय जातियों में बंटा है।'' भाजपा की पूर्व सहयोगी रही नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने भी पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने गणेश चतुर्थी उत्सव के दौरान संसद का सत्र बुलाकर ‘हिंदू विरोधी मानसिकता' का प्रदर्शन किया है।

"छुट्टियों को रद्द करने का आदेश वापस ले सरकार"
गिरिराज सिंह ने आरोप लगाया, ‘‘हम नीतीश कुमार के मंसूबे को नाकाम करने के लिए हिंदुओं को एकजुट करेंगे जिन्होंने बिहार को पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) का गढ़ बना दिया है और उनके सहयोगी लालू प्रसाद यादव जब सत्ता में थे तब उन्होंने सिमी (स्टुडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ़ इंडिया) को फलने-फूलने दिया।'' भाजपा ने कहा, ‘‘राज्य सरकार को हिंदू त्योहारों की छुट्टियों को रद्द करने का आदेश वापस लेना चाहिए। अगर वह ऐसा नहीं करती तो हम मानेंगे की बिहार को शरिया कानून के तहत इस्लामिक स्टेट में तब्दील करने की कोशिश की जा रही है।''

One Comment

  1. This article is a gem! The insights provided are very valuable. For additional information, check out: DISCOVER MORE. Looking forward to the discussion!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button