हुंदै मोटर की अगस्त में 71,435 इकाई, टोयोटा की 22,910 इकाइयों की हुई बिक्री

हुंदै मोटर की बिक्री अगस्त में 15 प्रतिशत बढ़कर 71,435 इकाई

नई दिल्ली
हुंदै मोटर इंडिया की अगस्त में थोक बिक्री सालाना आधार पर 15 प्रतिशत बढ़कर 71,435 इकाई हो गई।वाहन विनिर्माता ने अगस्त 2022 में अपने डीलरों को 62,210 इकाइयां भेजी थीं।

दक्षिण कोरियाई कंपनी की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, घरेलू बिक्री पिछले महीने नौ प्रतिशत बढ़कर 53,830 इकाई हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 49,510 इकाई थी।

बयान के मुताबिक पिछले महीने निर्यात 39 प्रतिशत बढ़कर 17,605 इकाई हो गया, जो अगस्त 2022 में 12,700 इकाई था।

हुंदै मोटर इंडिया के मुख्य परिचालन अधिकारी तरुण गर्ग ने कहा, ‘‘कंपनी की 71,435 इकाइयों की बिक्री संख्या घरेलू तथा निर्यात दोनों बाजारों में हमारे उत्पादों की बढ़ती स्वीकार्यता को दर्शाती है।''

टोयोटा ने अगस्त में 22,910 इकाइयों की रिकॉर्ड मासिक बिक्री दर्ज की

नई दिल्ली
 टोयोटा किर्लोस्कर मोटर (टीकेएम) ने अगस्त में 22,910 इकाइयों के साथ अब तक की सबसे अधिक मासिक बिक्री दर्ज की।पिछले महीने डीलरों को कंपनी की कुल आपूर्ति 53 प्रतिशत बढ़कर 22,910 इकाई हो गई, जबकि अगस्त 2022 में यह आंकड़ा 14,959 इकाई का था।

समीक्षाधीन माह में कंपनी की घरेलू थोक बिक्री 20,970 इकाई रही, जबकि निर्यात 1,940 इकाई रहा।

टीकेएम के उपाध्यक्ष (बिक्री व रणनीतिक विपणन) अतुल सूद ने एक बयान में कहा, ‘‘मजबूत बिक्री और बढ़ी हुई मांग ब्रांड के प्रति ग्राहकों की लगातार बढ़ती रुचि को दर्शाती है। टोयोटा अर्बन क्रूजर हाइराइडर और इनोवा हाईक्रॉस की मजबूत मांग जारी है।''

 

जूपिटर हॉस्पिटल आईपीओ के जरिए 869 करोड़ रुपये जुटाएगा

नई दिल्ली
 जूपिटर लाइफ लाइन हॉस्पिटल ने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिए 869 करोड़ रुपये जुटाने के लिए प्रति शेयर 695-735 रुपये का मूल्य दायरा तय किया है।

मल्टीस्पेशियल्टी अस्पताल श्रृंखला का आईपीओ छह सितंबर से आठ सिंतबर तक खुलेगा। एंकर निवेशक पांच सितंबर को शेयरों के लिए बोली लगा सकेंगे।

कंपनी के अनुसार, आईपीओ में 542 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। इसके अलावा प्रवर्तक समूह की इकाइयां और अन्य शेयरधारक 44.5 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लाएंगे।

इस महीने की शुरुआत में जूपिटर हॉस्पिटल ने आईपीओ से पहले संस्थागत निवेशकों से 123 करोड़ रुपये जुटाए थे। इसके बाद उसने नए निर्गम का आकार कम कर दिया था।

 

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button