विधान सभा डि‍जिटल म्‍यूजियम आमजन नि:शुल्‍क देख सकेंगे 15 सितम्‍बर से रविवार को खुला रहेगा म्‍यूजियम

विधान सभा डि‍जिटल म्‍यूजियम आमजन नि:शुल्‍क देख सकेंगे 15 सितम्‍बर से रविवार को खुला रहेगा म्‍यूजियम

जयपुर, 12 सितम्‍बर। राजस्‍थान विधान सभा अध्‍यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी की पहल पर राजस्‍थान विधान सभा के डिजिटल म्‍यूजियम ‘’ राजनैतिक आख्‍यान संग्रहालय ’’ को शुक्रवार 15 सितम्‍बर से आमजन के लिए खोला जाएगा। आमजन इस म्‍यूजियम को नि:शुल्‍क देख सकेंगे। म्‍यूजियम का साप्‍ताहिक अवकाश शनिवार को रहेगा। लोग म्‍यूजियम को रविवार को भी देख सकते हैं।
विधान सभा के प्रमुख सचिव श्री महावीर प्रसाद शर्मा ने बताया कि प्रात: 10:00 बजे से सांय 5:00 बजे तक आमजन म्‍यूजियम को देख सकेंगे। इच्‍छुक दर्शकों को अपने पहचान पत्र की छाया प्रति प्रवेश द्वार पर जमा करानी होगी। पहचान पत्र की छाया प्रति पर दर्शकों को अपने मोबाइल नम्‍बर आवश्‍यक रूप से अंकित करने होंगे। म्‍यूजियम को देखने आने वाले लोगों का प्रवेश विधान सभा के द्वार संख्‍या 7 से होगा। म्‍यूजियम में एक साथ 50 से अधिक दर्शक नहीं होंगे। दर्शकों को म्‍यूजियम देखने के नियमों का पालन करना होगा।
इस डिजिटल संग्रहालय में राजस्‍थान के निर्माण और राजनीतिक आख्‍यानों को कालातित कलात्‍मकता और आधुनिक तकनीकी संचार के माध्‍यम से प्रस्‍तुत किया गया है। संग्रहालय के निर्माण का उद्देश्‍य राजस्‍थान के गौरवशाली राजनीतिक इतिहास को प्रदर्शित करने के साथ आम नागरिक को राजनीतिक कार्यवाहियों और व्‍यवस्‍थाओं से अवगत भी कराना है।
इस विशाल संग्रहालय में राजस्‍थान की राजनीतिक विरासतों का डिजिटल प्रदर्शन रोचक तरीके से किया गया है। विधान सभा में विधेयक कैसे पारित होते हैं और कैसे ये कानून में परिणीत होते हैं इन सब के जवाबों के साथ विधान सभा अध्‍यक्ष, सदन के नेता और विपक्ष के नेता के अधिकारों और भूमिकाओं का विस्‍तृत विवरण भी इस म्‍यूजियम में देखने को मिलेगा। दो मंजिलों में विस्‍तारित इस भव्‍य म्‍यूजियम में विधान सभा अध्‍यक्षों एवं मुख्‍यमंत्रियों सहित विभिन्‍न गणमान्‍य के जीवन बिन्‍दुओं प्रकाश डाला गया है। संग्रहालय राज्‍य की शानदार विरासत और परम्‍पराओं का अनूठा संग्रह है। संग्रहालय आने वाली पीढियों को राजस्‍थान के राजनीतिक आख्‍यानों से परिचित कराएगा।

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button