राजस्थान मिशन 2030 के तहत उद्योग, खान एवं रीको के हितधारक देंगे अपने सुझाव एच.सी.एम.रीपा, ओटीएस में आयोजित होगा परामर्श शिविर

राजस्थान मिशन 2030 के तहत उद्योग, खान एवं रीको के हितधारक देंगे अपने सुझाव एच.सी.एम.रीपा, ओटीएस में आयोजित होगा परामर्श शिविर

जयपुर, 13 सितम्बर। राजस्थान मिशन 2030 के तहत उद्योग एवं वाणिज्य विभाग, खान एवं भू विज्ञान, रीको के हितधारकों के साथ 14 सितम्बर को एच.सी.एम.रीपा, ओटीएस के मेहता सभागार में सायं 4 से 6 बजे तक परामर्श शिविर आयोजित किया जाएगा।
   उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्रीमती शकुन्तला रावत ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत का विजन है कि प्रदेश को 2030 तक देश का अग्रणी राज्य बनाया जाए। इसके लिए राज्य की प्रगति की गति को 10 गुना तक बढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि मिशन को सफल बनाने हेतु गुरूवार को उद्योग एवं वाणिज्य विभाग, खान एवं भू विज्ञान, रीको लिमिटेड के हितधारकों के साथ रचनात्मक संवाद कर प्रगतिशील सुझाव प्राप्त किये जाएंगे। इन सुझावों का संकलन कर गुणवत्तापूर्ण विजन दस्तावेज तैयार किया जाएगा।
   श्रीमती रावत ने बताया कि शिविर में राजस्थान चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज, सीआईआई, फोर्टी, वीकेआइए, जयपुर इंडस्ट्रियल एस्टेट एसोसिएशन, फिक्की, खादी संस्थान, डिक्की, भारतीय उद्योग व्यापार मंडल, टैक्स प्रोफेशनल एसोसिएशन, खान मालिक एवं खान उद्यमों के प्रतिनिधि, हस्तशिल्पी, बुनकर जैसे विभिन्न हितधारकों से संवाद कर उनके सुझाव प्राप्त किए जाएंगे एवं उन पर विस्तृत विचार विमर्श किया जाएगा।
   उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के अतिरिक्त निदेशक श्री आर.के.आमेरिया ने बताया कि शिविर आयोजन में खान एवं पेट्रोलियम विभाग मंत्री श्री प्रमोद जैन भाया, चेयरमैन राजस्थान खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड श्री ब्रजकिशोर शर्मा, चेयरमैन आरएसआईसी एवं आरईपीसी श्री राजीव अरोड़ा, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग एवं वाणिज्य विभाग श्रीमती वीनू गुप्ता, आयुक्त उद्योग एवं वाणिज्य विभाग श्री सुधीर कुमार शर्मा, निदेशक खान एवं भूविज्ञान श्री संदेश नायक, एमडी राजसिको श्रीमती डॉ. मनीषा अरोड़ा सहित उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के अधीन आने वाले समस्त निगमों एवं बोर्डों के अधिकारी एवं विभिन्न हितधारक मौजूद रहेंगे।

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button