राजस्थान गैस द्वारा 88 करोड़ 05 लाख रुपए के टर्न ओवर के साथ 8 करोड़ 83 लाख रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित सदस्य संस्थाओं को लाभांश राशि के चैक वितरित

राजस्थान गैस द्वारा 88 करोड़ 05 लाख रुपए के टर्न ओवर के साथ 8 करोड़ 83 लाख रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित सदस्य संस्थाओं को लाभांश राशि के चैक वितरित

जयपुर, 5 सितंबर। राजस्थान सरकार के संयुक्त उपक्रम राजस्थान स्टेट गैस ने अपने सदस्यों को 65 लाख रुपये का लाभांश दिया है। एसीएस एवं चेयरपर्सन आरएसजीएल श्रीमती वीनू गुप्ता की उपस्थिति में एमडी श्री रणवीर सिंह ने आरएसएमएम की सब्सिडरी आरएसपीएल का 32 लाख 50 हजार रुपये का चैक एमडी आरएसएसएम श्री संदेश नायक को भेंट किया। वहीं 32 लाख 50 हजार रुपये का दूसरा चैक गैल गैस को दिया गया। एसीएस माइंस श्रीमती वीनू गुप्ता ने बताया कि राजस्थान स्टेट गैस ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान 88 करोड़ 05 लाख रुपये का सालाना कारोबार करते हुए 8 करोड़ 83 लाख रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया है।
श्रीमती गुप्ता ने बताया कि आरएसजीएल भारत सरकार के गैल गैस व राजस्थान सरकार के आरएसपीसीएल का संयुक्त उपक्रम है। उन्होंने बताया कि आरएसजीएल द्वारा अपने दोनों प्रमोटर्स को लाभांश के चैक दिए हैं। श्रीमती गुप्ता ने बताया कि प्राकृतिक गैस व पेट्रोल उत्पादों के भाव बढ़ने जैसी विपरीत परिस्थितियों के बावजूद आरएसजीएल ने अच्छे वित्तीय परिणाम दिए हैं। उन्होंने बताया कि ऑनलाईन व्यवस्था होने से अब सीएनजी स्टेशनों पर गैस की उपलब्धता व वितरण व्यवस्था में उल्लेखनीय बदलाव आया है। आरएसजीएल द्वारा नीमराणा, कूकस से सीएनजी उपलब्ध कराने के साथ ही कोटा में सीएनजी स्टेशनों से सीएनजी उपलब्ध कराने व कोटा में आधारभूत संरचना स्थापित करते हुए पाइप लाईन से घरेलू गैस उपलब्ध कराई जा रही है।
निदेशक माइंस व एमडी आरएसएमएम श्री संदेश नायक ने लाभांष वितरण पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे संस्थान की विश्वसनीयता बढ़ती है। उन्होंने कार्यों के विस्तार और लाभदायकता बढ़ाने का सुझाव दिया।
राजस्थान स्टेट गैस लि. के प्रबंध संचालक श्री रणवीर सिंह ने बताया कि राजस्थान स्टेट गैस लगातार लाभ में काम कर रही है। कोटा में औद्योगिक और वाहनों के लिए गैस उपलब्ध कराने में भी बड़ी सफलता प्राप्त की है। उन्होंने बताया कि अब कोटा में औद्योगिक प्रतिष्ठानों को प्राथमिकता से कनेक्शन जारी कराने पर जोर दिया जा रहा है ताकि डीजी सेट की तुलना में सस्ता व ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा दिया जा सके।
प्रबंध संचालक श्रीरणवीर सिंह ने विश्वास दिलाया कि आरएसजीएल की गतिविधियों और कार्यों को तेजी से विस्तारित किया जाएगा और अधिक से अधिक लोगों तक सेवाएं उपलब्ध कराने के समन्वित कदम उठाए जाएंगे।
इस अवसर पर डीजीएम मार्केटिंग श्री विवेक रंजन, डीजीएम एचआरडी श्री विवेक श्रीवास्तव, सीएफओ श्री दीप्तांशु पारीक, मैनेजर आईटी श्री गगनदीप राजोरिया व सीएस श्री रवि अग्रवाल, पीआर प्रभारी श्री राजेन्द्र शर्मा ने भी हिस्सा लिया।

One Comment

  1. Insightful read! I found your perspective very engaging. For more information, visit: READ MORE. Eager to see what others have to say!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button